[Readmelater]

अंजू और नग़मा के सपनों का सफर

सपने तो बहुत हैं लेकिन पूरे कुछ ही होते हैं। इसका मतलब ये बिलकुल नहीं है कि आप सपने देखना ही छोड़ दें। जब सपनों की वो दुनिया आंखों के सामने सच होती हुई दिखती है तो वह एहसास अलग ही होता है।

ऐसे ही सपने हैं अंजू और नग़मा के।

अंजू और नग़मा है तो बुंदेलखंड में एक ही शहर की, लेकिन उनकी कहानी अलग है। एक दलित परिवार से आने वाली अंजू का सपना है कि वो डॉक्टर बने I लेकिन आर्थिक स्थिति की वजह से अंजू के लिए डॉक्टर बनने जैसे सपना देखना एक बहुत बड़ी बात है। दूसरी तरफ नग़मा की कक्षा 10 के बाद ही पढ़ाई छूट गई। नग़मा हीरोइन बनना चाहती है। इस एपिसोड में, अंजू और नग़मा की कहानी सुनकर यह पता चलेगा कि लड़कियों के सपने चाहे कितने भी अलग हो, मुश्किलें सब के रास्ते में आती हैं, जो कि समाज की असमानता का आइना हमारे सामने रख देती हैं।

Young people have a lot of dreams. Yet, not every dream comes true. Nevertheless, the feeling of dreams turning to reality is a surreal one.
Anju and Nagma have dreams too.
Both are residents of the same town in Bundelkhand, but their stories cannot be more different. Anju, who belongs to a Dalit family, wants to become a doctor but her family’s financial situation does not allow her to. Nagma, who had to quit school after her father died, wants to become an actress. This episode, which follows the dreams and aspirations of Anju and Nagma, mirrors existing and rising inequality in the society.

Girl in a jacket
Support BehanBox

We believe everyone deserves equal access to accurate news. Support from our readers enables us to keep our journalism open and free for everyone, all over the world.

Donate Now